West Bengal: असिहष्णुता का जिक्र कर क्या कुछ बोलीं सीएम ममता बनर्जी?

0
4


West Bengal News: पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने शुक्रवार एक बार फिर केंद्र सरकार पर निशाना साधा. इस दौरान उन्होंने बीजेपी सरकार पर केंद्रीय एजेंसियों के जरिये देश चलाने का आरोप लगाया. इसके साथ ही बनर्जी ने मतभेदों के बावजूद राजनीतिक प्रतिद्वंद्वियों के बीच आपसी सम्मान की आवश्यकता पर जोर दिया और कहा कि देश में असहिष्णुता/असहनशीलता का दौर चल रहा है.

सीएम ने संविधान दिवस की पूर्व संध्या पर विधानसभा में यह आरोप लगाया कि केंद्र की बीजेपी सरकार केंद्रीय एजेंसियों के जरिये देश चला रही है. इस दौरान उन्होंने जनता के लोकतांत्रिक अधिकारों की रक्षा करने का आह्वान किया.

असहिष्णुता का युग चल रहा है: ममता बनर्जी

अपने सम्बोधन में ममता बनर्जी ने कहा कि देश में अब राजनीतिक असहिष्णुता/असहनशीलता का दौर चल रहा है, जो कि दुर्भाग्यपूर्ण है. संविधान के मुताबिक, लोगों के प्रतिनिधियों को जन कल्याण के लिए काम करना चाहिए. धर्म, समुदाय या जाति और ध्रुवीकरण के आधार पर भेदभाव नहीं होना चाहिए. लेकिन, हम क्या अनुभव कर रहे हैं? इसके विपरीत, हम लोगों के अधिकारों को छीनते हुए देख रहे हैं. 

News Reels

शुभेंदु अधिकारी ने TMC पर लगाया गंभीर आरोप 

इससे पहले चर्चा में हिस्सा लेते हुए विपक्ष के नेता शुभेंदु अधिकारी ने कहा कि तृणमूल कांग्रेस ने सरकार ने लोगों के लोकतांत्रिक अधिकारों को छीन लिया है, शिक्षा क्षेत्र का राजनीतिकरण किया है, नौकरशाही विभाजित कर दी. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि तृणमूल कांग्रेस ने विपक्ष का सम्मान नहीं किया.

बनर्जी ने आरोपों का खंडन करते हुए कहा कि उनकी सरकार ने विपक्ष को उचित सम्मान दिया और 41 समितियों में से नौ विधानसभा पैनल के भाजपा विधायकों को अध्यक्षता की पेशकश की. उन्होंने कहा कि अगर हम राजनीतिक प्रतिद्वंद्वी हैं तो भी परस्पर सम्मान होना चाहिए. इससे लोकतंत्र काम करता रहता है. 

ये भी पढ़ें- PM Modi China: ‘चीन के मुद्दे पर अडिग हैं मोदी’, प्रधानमंत्री की शी जिनपिंग से हुई मुलाकात की आलोचना पर बोले एस जयशंकर



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here